October 20, 2021
मध्यप्रदेश

पुलिस हिरासत में हुई मौत, मृतक के परिवार को चुप रहने के लिए दिया जा रहा दबाव

पुलिस हिरासत में हुई मौत, मृतक के परिवार को चुप रहने के लिए दिया जा रहा दबाव

मध्यप्रदेश के जबलपुर से पुलिस कस्टडी में एक मुस्लिम युवक की मौत का मामला सामने आया है. बताया जाता है, कि पत्नी से अनबन के बाद पत्नी ने थाने में शिकायत की थी, जिसके बाद पुलिस की मार से उमर की ममूट हो गई है.
यूनाईटेड अगेंस्ट हेट के नदीम खान ने इस घटना की जानकारी अपनी फ़ेसबुक पोस्ट के ज़रिये दी है. उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा है, कि टीआई ने घर वालों को लाश देते हुए धमकाया, कि चुपचाप ले जाकर दफना दो और अगर कुछ आवाज़ उठाई तो तुम सब के साथ भी यही होगा
ज्ञात होकि नदीम खान ने 10 वर्ष पूर्व एक हिंदू युवती से शादी की थी, नदीम और उनकी पत्नी के बीच कुछ दिन पूर्व जब अनबन शुरू हुई तो उन्होंने रिपोर्ट दर्ज कराई थी. ऐसा बताया जा रहा है, कि पुलिस ने नदीम की बहुत ही बेरहमी से पिटाई की थी. नदीम की बॉडी में जो मार के निशान हैं, उनसे यही अनुमान लगाया जा सकता है.

देखें यूनाईटेड अगेंस्ट हेट के नदीम खान की fb पोस्ट

ये उमर खान की तस्वीर है जी जबलपुर मध्यप्रदेश के उमर, उमर अब नही रहे पुलिस की पिटाई वो झेल नही पाएं और दम तोड़ दिया

जुर्म ये था कि आज से 10 साल पहले उन्होंने हिन्दू लड़की से शादी कर ली थी,शादी के बाद कुछ खट पट चल रही थी उसके बाद बीवी ने पुलिस में शिकायत कर दी जिसके नतीजे में मध्यप्रदेश पुलिस का हिन्दू स्वाभिमान जाग गया और उमर की इतनी बेरहमी से पिटाई हुई कि अस्पताल लाना पड़ा ,लेकिन अस्पताल में भी वो बच न सके ,जब उमर मर गए टी उनके घर वालो से कहा गया चुपचाप ले जाकर दफना दो और अगर कुछ आवाज़ उठाई तो तुम सब के साथ भी यही होगा
उमर की लाश उसकी बहन के हवाले कर के पुलिस वहाँ से चली गयी ,उमर की लाश की तस्वीर और उनकी पुरानी तस्वीर देख कर आप अंदाजा लगा ले की पुलिस का रवैया क्या रहा होगा
फिलहाल एक बहन अपने भाई की लाश के साथ इंसाफ की उम्मीद में बैठी है
कोई मीडिया न लिखेगा न दिखायेगा इसलिए लिख देता हूं कि आप शेयर कर देंगे तो शायद कुछ आवाज़ बन जाये बाकी लाशें तो रोज़ उठायी ही जा रही है.

About Author

Team TH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *