October 24, 2021
राजनीति

शिवसेना और भाजपा के बीच बढ़ती दरार की वजह?

शिवसेना और भाजपा के बीच बढ़ती दरार की वजह?

राजग के प्रमुख और महाराष्ट्र सरकार में सहयोगी दल  शिवसेना प्रमुख ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाये और जमकर हमला बोला.  शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को आरोप लगाया कि शिवसेना को उसकी घरेलू जमीन पर भाजपा  अस्थिर कर रही है.
शिवसेना प्रमुख ने कहा कि,  “इससे दोनों दलों में सामजंस्य, सद्भावना और एक दूसरे को समझने की भावना धीरे-धीरे कम हो रही है, जिसके बल पर दो दशकों तक महाराष्ट्र में शिवसेना और भाजपा का गठबंधन रहा.”
 
महाराष्ट्र के औरंगबाद जिले के पैठन में उद्धव ने कहा, “हमारे गठबंधन में पिछले 25 साल से यह समझ बनी थी कि भाजपा पूरे देश में राज करेगी और महाराष्ट्र को शिवसेना के लिए छोड़ देगी. हम हिंदू वोटों का विभाजन नहीं चाहते. हमने उनकी हमेशा मदद की लेकिन वह हमारे ही घर में हमें अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं.”
उन्होंने आगे कहा कि, “पिछले महीने मेरी इस घोषणा के बाद कि शिवसेना लोकसभा और विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी, इस बात पर बहस और कयासक लगाने शुरू हो गई है कि इस फैसले से सबसे ज्यादा नुकसान किसे होगा, भाजपा को या शिवसेना को. ये चुनाव के नतीजे ही  दिखाएंगे कि कौन जीता और हारा. पर शिवसेना अकेले चुनाव लड़ेगी और जीतेगी.”
उद्धव ने कहा कि भाजपा सरकार ने शिवसेना के दबाव में किसानों के कर्ज माफ किए हैं. चीनी पाकिस्तान से आयात की जा रही है और केंद्र सरकार किसानों के प्रति हमदर्दी की बरसात कर रही है.

About Author

सुभाष बगड़िया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *