0

पीएम मोदी के भाषणों पर लालू ने चुटीले ट्वीट कर किया हमला

Share

गुजरात विधानसभा चुनाव का प्रथम चरण समाप्त होने के बाद दूसरा चरण की के लिए जमकर रैलिया की जा रही हैं. आरोप और प्रत्यारोप की दौर भी खुब चल रहा है. अब लालूप्रसाद यादव भी इस चुनाव में कूद गये ट्वीट के जरिये.

फाइल फोटो


लालू प्रसाद ने PM पर तंज कसते हुए, उनके(मोदी) उसी भाषण पर व्यंग्य किया और कहा कि, जब भी चुनाव आता है, मोदी को पाकिस्तान क्यों याद आ जाता है.
लालू ने अलग अलग ट्वीट करते हुए कम शब्दों में मोदी पर तंज कसते हुए, कई ट्वीट किया.
  • जनता को चाहिए भात, वो खिलाते है बात.
  • नर्वसनेस तो बिहार से भी भयंकर है. कुछो भी बोले जा रहे है.
  • मेरे को ये कहा, मेरे को वो कहा। तेरे से ना कह मेरे से कहा। हाहाहाहा….
  • गुजरात मॉडल पर बात करने में किसका नाना याद आ रहा है? करों ना गुजरात के विकास मॉडल पर बात? किसने रोका है??
  • उद्योगपतियों मत भूलों, चरमपंथ से उद्योग धंधे भी ठप्प होते है।ज़्यादा वंदना ठीक नहीं!
  • ज्यादा प्रचार, काम कम भाषण अपार, राशन ख़त्म.
  • गुजरात वालों याद रखना, “कमल का फूल पूरे 5 साल अप्रैल फूल बनाता है”. गुजरात में तो विगत 22 वर्ष से बना रहा है। सतर्क रहो, सावधान रहो, ख़ुश रहो.
  • मैं मेरे परम प्यारे “राम” से वोट नहीं माँगता बल्कि उस पालनहार से अमन में सुख-शांति,समृद्धि और ख़ुशहाली की प्रार्थना करता हूँ.
  • मेरा राम मेरे हदय में सदैव मेरे अंग-संग रहता है। मैं उन्हें मंदिर-मस्जिद-गुरुद्वारे और चर्च में नहीं खोजता.
  • डूबते को “राम” का सहारा, तिनका पुराना हो गया.
  • इस देश में राजनीतिक मर्यादा, भाषा और व्याकरण को सिर्फ़ और सिर्फ़ एक व्यक्ति ने तार-तार एवं तहस-नहस किया है.
  • कहाँ है विकासवा? कोई ढूँढ कर लाओ रे!
  • बिहार चुनाव में ई लोग गाय और पाकिस्तान को खोज कर लाए थे और अब गुजरात में 800-900 साल पहले गढ़े मुर्दों को।मतलब हालात वही है और हाल भी वही होने वाला है.
  • वह बिना बुलाए ही पाकिस्तान चले गये, उन्होंने ISI जैसी शातिर एजेंसी को पठानकोट जैसे संवेदनशील इलाके में आने दिया. और पाकिस्तानी PM को oath ceremony में बुलाया और उनको उदारता से भेंट दी. फिर भी पाकिस्तान बुरा है. यदि आप पाकिस्तान इतनी ही नफ़रत करते हैं तो क्यों ना आप पाकिस्तान से most favoured देश का दर्जा खत्म कर लेते?

क्या कहा था PM

गुजरात में एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस नेताओं पर पाकिस्तान के साथ मिलकर गुजरात में अहमद पटेल को सीएम बनाने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा कि , कल टीवी पर, अखबार में एक जबरदस्त चर्चा थी और चर्चा इस बात की थी कि मणिशंकर के घर पर पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पाकिस्तान के एक पूर्व विदेश मंत्री, भारत के भूतपूर्व उपराष्ट्रपति और भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मणिशंकर के घर पर मीटिंग हुई. ये मीटिंग तीन घंटे तक चली और दूसरे दिन मणिशंकर ने मोदी को नीच कहा. ये एक गंभीर मामला है कि पाकिस्तान के लोगों के साथ गुप्त मीटिंग करने का कारण क्या है ?
प्रधानमंत्री ने अपनी बात को आगे कहा कि , पाकिस्तान सेना के भूतपूर्व डायरेक्टर जनरल अशरद रफीक, कहते हैं कि गुजरात में अहमद पटेल को मुख्यमंत्री बनाने के लिए सपोर्ट करना चाहिए.