0

क्या भारतीय टीम बदल पायेगी अफ़्रीकी दौरे का इतिहास

Share

भारतीय क्रिकेट टीम इस समय दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर है. दोनों देशों के बीच टेस्ट सिरीज़ का आगाज 5 जनवरी से हो चुका है. इस दौरे पर भारत को 3 टेस्ट, 6 वनडे और 3 टी-20 मैच खेलने हैं. दक्षिण अफ्रीका पहला टेस्ट जीतकर सीरीज में 1-0 से आगे है. दुसरे टेस्ट मैच में भी दोनों टीमों के बीच जबरदस्त संघर्ष चल रहा है. मेजबान टीम रेकॉर्ड के मामले में भले ही भारी पड़ रही हो, लेकिन वर्ल्ड नंबर वन की रैंकिंग पर मौजद विराट कोहली की टीम भी कम नहीं दिख रही है. कोहली बिग्रेड ने पहली बार होम सीजन में सबसे ज्यादा सीरीज जितने का रिकार्ड्स अपने नाम किया है और भारतीय टीम विदेशी सरजमीं पर भी यही रूतबा बरकरार रखना चाहेगी.हालांकि अफ्रीकी सरजमीं पर ये चुनौती इतनी आसान नहीं लगती.
Image result for india south africa cricket
​इतिहास गवाह है कि अफ़्रीकी सरजमीं पर जीत का ख्वाब देखना मायूसी ही देता है.बता दें कि भारत ने दक्षिण अफ्रीका की जमीन पर पिछले 25 सालों से कोई सीरीज नहीं जीती है .अब तक भारत  दक्षिण अफ्रीका  में 6 टेस्ट सीरीज में हिस्सा ले चुका है. जिसमें सिर्फ एक सीरीज  ही ड्रॉ  रही बाकी  5 में हार का हार पहनकर वापस आना पड़ा. इस दौरान  दक्षिण अफ्रीका में खेले गए 17 टेस्ट में सिर्फ 2 बार जीत मिली है. निश्चित तौर पर भारतीय टीम विराट कोहली की अगुवाई में दक्षिण अफ्रीका में इतिहास बदलना चाहेगी. आइये एक नजर डालते हैं भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका के अब तक के दौरों पर.

1992-93 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 1-0 (दक्षिण अफ्रीका), वनडे सीरीजः 5-2 (दक्षिण अफ्रीका)] – 1992-93 में पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम ने साऊथ अफ्रीका का दौरा किया था. इस सीरीज में पहले दो टेस्ट ड्रॉ करने के बाद टीम इंडिया ने तीसरा टेस्ट 9 विकेट से गंवा दिया था. चौथा और अंतिम टेस्ट ड्रॉ होने की वजह से दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज 1-0 से जीत ली. वनडे सीरीज में तो दक्षिण अफ्रीका ने शुरुआती 5 में से 4 मैच जीतकर सीरीज पर कब्जा कर लिया था.भारतीय टीम ने इस सीरीज में तीसरे और सात वें मैच जीते और सीरीज 2-5 से गंवाई.

1996-97 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 2-0 (दक्षिण अफ्रीका); ट्राई-सीरीज विजेताः दक्षिण अफ्रीका] – 1996-97 में एक बार फिर भारतीय टीम ने साऊथ अफ्रीका का दौरा किया. इस दौरे पर भारतीय टीम का प्रदर्शन शुरुआती दो टेस्ट मैचों में खराब रहा और दक्षिण अफ्रीका ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली थी. अंतिम टेस्ट में राहुल द्रविड़ और जवागल श्रीनाथ के बेहतर प्रदर्शन की बदौलत टीम इंडिया जीत हासिल करने के करीब थी, लेकिन दक्षिण अफ्रीका मैच ड्रॉ करने में कामयाब रहा. भारत, दक्षिण अफ्रीका और जिम्बॉब्वे के बीच की ट्राई-सीरीज में भारत घरेलू टीम के खिलाफ एक भी मैच नहीं जीत सका फाइनल में टीम इंडिया 17 रनों से हार गई.

1996-97 के दक्षिण अफ्रीका दौरे नेल्सन मंडेला के साथ भारतीय कप्तान अज़हरुद्दीन, राहुल द्रविड़ एवं सचिन तेंदुलकर

2001-02 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 1-0 (दक्षिण अफ्रीका); ट्राई-सीरीज विजेताः दक्षिण अफ्रीका] – 2001-02 के इस दौरे पर वीरेंद्र सहवाग ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत पहले टेस्ट की पहली पारी में शतक से की, लेकिन इसके अलावा पहले टेस्ट में भारतीय टीम के लिए कुछ अच्छा नहीं था और वो ये मैच 9 विकेट से हार गई. दूसरा टेस्ट ड्रॉ रहा और तीसरा टेस्ट विवादों की वजह से अमान्य हो गया.

2006-07 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 2-1(दक्षिण अफ्रीका); वनडे सीरीजः 4-0 (दक्षिण अफ्रीका); एकमात्र टी20 विजेताः भारत] – भारत के लिए इस दौरे की शुरुआत बेहद खराब हुई, जब पहले वनडे मैच के बारिश में धुलने के बाद, टीम इंडिया बाद के चारों वनडे मैच हार गई.लेकिन पहले टेस्ट में भारतीय टीम की किस्मत जागी और एस. श्रीसंत की शानदार गेंदबाजी के चलते भारत ने दक्षिण अफ्रीका में अपनी पहली जीत हासिल की. हालांकि इसके बाद टीम इंडिया अगले दोनों टेस्ट मैच हारकर सीरीज 1-2 से गंवा बैठी. इस दौरे पर दोनों देशों के बीच एक टी20 मैच भी हुआ जिसमें भारत को जीत हासिल हुई.

राहुल द्रविड़

2010-11 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 1-1; वनडे सीरीजः 3-2(दक्षिण अफ्रीका); एकमात्र टी20 विजेताः भारत] – ये किसी भी भारतीय टीम का अब तक का सर्वश्रेष्ठ दक्षिण अफ्रीका दौरा साबित हुआ है. पहला टेस्ट भारतीय टीम पारी और 87 रनों से हार गई. खास बात ये रही कि सचिन तेंदुलकर ने इसमें अपना 50वां टेस्ट शतक लगाया. दूसरे टेस्ट में भारत का प्रदर्शन बेहतर रहा और जहीर खान की बेहतरीन गेंदबाजी ने टीम को जीत दिला दी. अगला टेस्ट ड्रॉ रहा और सीरीज भी 1-1 से बराबर रही. वनडे सीरीज में 2-1 की बढ़त हासिल करने के बाद भारतीय टीम ने इसे 2-3 से गंवा दिया, हालांकि एकमात्र टी20 में 21 रनों से जीत हासिल की.

ग्रीन स्मिथ का विकेट भारतीय गेंदबाज़ ज़हीर खान का फ़ेवरेट रहा है

2013-14 दौरा

[टेस्ट सीरीजः 1-0(दक्षिण अफ्रीका); वनडे सीरीजः 2-0 (दक्षिण अफ्रीका)] – दौरे की शुरुआत में भारतीय टीम अपने दोनों वनडे मैच हारकर सीरीज गंवा चुकी थी. तीसरा वनडे मैच बारिश की वजह से धुल गया. पहले टेस्ट में विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा के शतकों की बदौलत टीम इंडिया का प्रदर्शन बेहतर तो था, लेकिन मैच ड्रॉ रहा. दूसरे टेस्ट में 10 विकेट से जीत हासिल कर दक्षिण अफ्रीका ने टेस्ट सीरीज 1-0 से जीत ली.