November 30, 2021
राजनीति

केजरीवाल के विधायक की जनता को धमकी?

केजरीवाल के विधायक की जनता को धमकी?

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक केजरीवाल देश भर में अपनी पार्टी का झंडा बुलंद करते हुए नज़र आ रहे हैं। इसके अलावा वो सभी से ये भी बता रहे हैं कि उनकी पार्टी “अलग” है। उनकी विचारधारा अलग है। लेकिन उनकी पार्टी के विधायक शायद अपनी जीत से इतना गुरूर में आ गए हैं जो जनता से बातचीत करने का तरीका भी भूल गए हैं।

सीलमपुर विधानसभा के आम आदमी पार्टी के विधायक अब्दुल रहमान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इस वीडियो में विधायक जी किसी शख्स को कथित तौर पर “धमकी” देते हुए नज़र आ रहे हैं।

इसमें वो “अब रोक कर दिखा” कहते हुए नज़र आ रहे हैं। ये पूरा मामला क्या है ये अलग बात है। लेकिन क्या जनता से बात करने का यही तरीका होता है? क्या केजरीवाल जी के विधायक “आम आदमी” के साथ यही रवैया रखते हैं?

कौन हैं अब्दुल रहमान?

अब्दुल रहमान 2020 में आम आदमी पार्टी के टिकट पर सीलमपुर विधानसभा से विधायक चुने गए थे। इससे पहले 2017 में ये चौहान बांगर वार्ड से आम आदमी पार्टी के टिकट निगम पार्षद का चुनाव लड़ें थे।

इसके अलावा आम आदमी पार्टी के खिलाफ 2013 में विधानसभा चुनाव लड़ें थे बसपा के टिकट पर तब ये तीसरे नम्बर पर आए थे।

कर्मचारी को अपना काम करने से रोक रहा था व्यक्तिः विधायक

इस पूरे मामले पर जब विधायक अब्दुल रहमान से सवाल किया गया, तो उन्होंने अपनी सफाई में हमसे कहा कि “गली में कुछ सीवर कर्मचारी अपना काम करने के लिए सीवर खोल रहे थे, लेकिन एक कांग्रेस का लड़का आकर के कर्मचारियों को रोकने लगा। कहा नहीं खोलने देंगे। तो मैंने (विधायक अब्दुल रहमान) उससे कहा कि भाई तू क्यों मना कर रहा है, तू कौन है मना करने वाला। तू काम करने से क्यों रोक रहा है लेबर को। बस इतनी बात हुई और कोई बात नहीं।”

इस मामले पर चौहान बांगर वार्ड के पूर्व प्रत्याशी रुख्सार अहमद से भी हमने बात की ,उन्होंने कहा है कि “देखिये ये जो विधायक जी है सड़कों पर लड़ना इनकी आदत है,ऐसा ये 15 से 20 बार कर चुके हैं,जनता के चुने हुए प्रतिनिधियों को लड़ना नहीं चाहिए,और सीधी सी बात ये है कि ऐसा ये इसलिए करते हैं कि क्योंकि इनके पास जनता के सवालों के जवाब नहीं होते हैं।”- एडवोकेट रुख्सार एमआइएम दिल्ली प्रदेश लीगल सेल के हेड हैं।

विधायक का यह भी कहना था कि इसी बात का किसी ने वीडियो बना झगड़े की तरह शेयर कर दिया। उन्होंने आखिर में कहा, ‘हमारा काम झगड़ा करना नहीं है।’ लेकिन वायरल वीडियो में ये देखा जा रहा है कि विधायक जी का तरीका कम से कम उदार नहीं था।

विवादों से है पुराना नाता

हालांकि विवादों से विधायक जी का पुराना नाता रहा है। एक महिला ने इन पर मारपीट और छेड़छाड़ (Sexual Assault) का आरोप लगाया था। निगम पार्षद उपचुनाव के दौरान महिला की शिकायत पर नार्थ ईस्ट जिले की जाफराबाद थाने में आरोपी विधायक अब्दुल रहमान (MLA Abdul Rehman) के खिलाफ मारपीट और छेड़छाड़ की धाराओं में प्राथमिकी (FIR) भी दर्ज की गई थी।

About Author

Heena Sen