January 25, 2022
उत्तरप्रदेश

UP के bijnor में सड़क के शुभारंभ पर नारियल नहीं टूटा, सड़क ही टूट गयी..

UP के bijnor में सड़क के शुभारंभ पर नारियल नहीं टूटा, सड़क ही टूट गयी..

UP के bijnor में एक सड़क नारियल से भी कच्ची निकली। ये बात इसलिए कही जा रही है क्योंकि, बिजनौर की इस नई सड़क के उदघाटन समारोह में जब विधायक ने सड़क पर नारियल फोड़ा तो नारियल तो नहीं टूटा लेकिन सड़क उखड़ पड़ी।

ये सड़क UP के bijnor में हल्दौर से नवादा गांव तक बनाई जानी है, जो पूरे 7 किलोमीटर लंबी सड़क है। bijnor की विधायक “सूची मौसम चौधरी (suchi mousam choudhary)” ने बताया कि सड़क का प्रोजेक्ट पूरे 1 करोड़ 16 लाख और 38 हज़ार का है।

सड़क टूट गयी, लेकिन नारियल नहीं टूटा :

मीडिया के हवाले से शुक्रवार को bijnor की विधायक सूची मौसम चौधरी सिंचाई विभाग के आग्रह पर सड़क का उदघाटन करने पहुंची थी। उन्होंने उदघाटन के लिए सड़क पर जैसे ही नारियल तोड़ा, सड़क टूट गयी लेकिन नारियल नहीं टूटा। इसके बाद विधायक समेत उनके सहयोगियों ने सड़क पर फावड़ा मारकर देखना चाहा कि सड़क कितनी मजबूत है।

लेकिन हर एक फावड़े के वार से सड़क पर गढ्ढे होने लगे। जिसके बाद विधायक ने DM तक सूचना पहुंचाई और मामले की जांच के लिए तीन लोगो की समिति बनाने की बात कही।


विधायक ने जांच समिति का घण्टो किया इंतज़ार :

इस बीच विधायक और उनके सहयोगी घण्टो उसी सड़क पर इंतज़ार करते रहे। उन्होंने कहा, जब तक DM और जांच करने वाले नहीं आ जाते, और हम अपनी निगरानी में सेम्पल नहीं भरवा देते तब तक हम यहां से नहीं जाएंगे। दूसरी और क्षेत्रीय मीडिया से बातचीत करते हुए विधायक, सूची मौसम चौधरी ने बताया कि सिंचाई विभाग द्वारा इस सड़क का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने हमें सड़क के शुभारंभ के लिए बुलाया, जब हमने नारियल तोड़ा तो सड़क उखड़ पड़ी। व्यक्तिगत जांच में हमने पाया कि सड़क में बहुत सी अनियमितता है।


ज़िम्मेदारों पर कार्यवाही की जाएगी :

विधायक ने कहा, की सड़क की ऐसी हालत मिलने पर हमने जिले के DM से बात कर तीन लोगों की एक जांच समिति बनवाई है। बकायदा, हम ढाई से तीन घंटे जांच समिति का इंताज़ार करते रहे और सेम्पलिंग अपनी निगरानी में करवाई।


उन्होंने बताया कि विधायक सड़क बनाने वाले ठेकेदार से बात कर रही थी, तब सबसे ज़्यादा हाज़िर जवाबी सिंचाई विभाग द्वारा की जा रही थी।
विधायक ने आगे कहा कि, दोषियों / ज़िम्मेदारों पर कार्यवाही की जाएगी। सड़क को तय मानकों और पैमानों पर बनवाया जाएगा।


About Author

Sushma Tomar